Vamsee a poet

ये ख़्याल... ख़त्म ही नहीं होते.. आते ही जाते हैं.. और ले जाते हैं मुझे.. जानें कहां.. ख्वाबों.. ख्वाहिशों.. और तरजुमों की बस्ती में.....

by Vamsee - 9 episodes
Chori4 years ago
01:25
Preeti4 years ago
02:11


Suggested Podcasts

Fever FM - HT smartcast

Babit

Anu Wat

DARSHIT RATHOR

हरि शरणम्

Dhananjay Khole

Radio Nasha - HT smartcast